Home07620266590Glaze Law of Average Class in Hindi

Glaze Law of Average Class in Hindi

मेरा नाम चेतन है । सफलता के इस सफर मे आपका स्वागत है । हम सभी लोग अपनी लाइफमे सफल होना चाहते है । चाहे किसी भी क्षेत्र की हम बात करें , अगर हम चाहे तो उस क्षेत्र में सबसे ऊंचे मुकाम पर पहुंच सकते हैं ।

विषय सूची

Glaze Law of Average
Glaze Law of Average
मेरे इस सेषन को आप सिर्फ इसलिए नहीं सुनिए कि आपको कुछ अच्छी बातें मिल जाये दूसरों को कहने के लिए । इससेषन का आपको असली फायदा तब होगा
जब आप इस रोषन में कही गयी बातों को अपने जीवन में उतारेगा यानी कि जब आपके अन्दर एकट्रांसफॉर्मषन आयेगी । सो आरयू रेडी फॉर दिससेषन ? यस और नो ?
पहला कदम: बडी सोच
1 किसी भी आदमी की सफलता के सफरमे जो उसका सबसे पहला कदम है- वो है , उस आदमी की सोच । एक आदमी की सफलता की कहानी में उसकी सोच का बहुत अहम रोल होता है ।
 
2 बिकॉज द मोस्ट पॉवरफुल थिंग्स इन दिसवर्ल्ड इज थॉट ‘
 
3 दुनिया में सबसे ताकतवर अगर कोई चीज है तो वह है सोच

पहला कदम बडी सोच

1 ताजमहल सबसे पहले कहां बना ?

 हवाई जहाज सबसे पहले कहां बना

3 दुनिया में जो कुछ भीबई सेबडा हुआ है वो किसी न किसी की

4 सोच का नतीजा था

5 आप अगर कोई डाक्टर है तो पहले आपने सोचा कि मुझे डाक्टर बनना है ।

6 अगर कोई गायक है तो पहले उसने सोचा कि मुझे गायक बनना है ।

7 आप में से बहुत सारे लोग शादी – शुदा होग । ऐसे ही हो गयी शादी

8 ओपन प्रश्न पूछा आज से पांच साल बाद आप लोग अपने आपको कहा देखना चाहते हैं ,

पहला कदम बडी सोच

1 हमलोग सोचने से भी डरते हैं ।
 
2  एक और गहरा सवाल है कि हम लोग छोटा सोचते ही क्यों है ?
 
3 हम बडा सोचने से डरते क्यों है ?
 
4 क्यों हम दस हजार बीसहजार एक लाख पर आकर अटक जाते है ?
 
5 बड़ा सोचना तो छोडिए अगर कोई दूसरा वड़ा सोच रहा होता है तो हम उसका मजाक उड़ाने लग जाते हैं ।
 
6 इसमें हमारी गलती नहीं है । हमे हमारी सोच मिलती है हमारी परवरिशसे हम कैरोमाहौलमें पले कैसे माहौल मे बड़े हुए कौन कौन से लोग है जो हमारी परवरिश मे शामिल थे ।

 

पहला कदम : बडी सोच

1 हमारे देश को आजादी तो मिल गई मगर हमारी सोच आज भी गुलाम है क्योंकि एजुकेषन सिस्टर तो वही है जो अंग्रेजो ने चलाया था ।
 
2  एक बार एकवान का अण्डा कौवे घोसले में गिर गया । हम आपभी उसबाज के बच्चे की तरह ही है । जब कोई बच्चा अपनी मां से कहता है कि मां एक दिन में भी बहुत अमीर बनूंगा , मेरे पास गाड़ी होगी , बंगला होगा , तभी उसकी मां उसे डांट कर कहती है  चुपकर बेटा हम सर्विसक्लास लोग है । हमेशा अपनी चद्दर देखकर पैरपसारने चाहिए । बड़ी – बड़ी बाते नहीं करनी चाहिए क्यो दोस्तो , ऐसा ही होता है ना ?
 
पहला कदम: बडी सोच
 
1 हर कहानी जीरो से शुरू होती है ।
 
2  मैं उन लोगों की बात नहीं कर रहा हूं जो अमीर घरों में पैदा होते है ।
 
3 मैं मुकेश अम्बानी की बात नहीं कर रहा हूं । मैं उनके पिता धीरु भाई अम्बानी की बात कर रहा हूं जो एक गांव में पैदा हुआ । जो हमारी तुम्हारी जितनी ही आयुजिया । लेकिन जाने से पहले 65000 करोड़ रुपये की सल्तनत छोड़ गया ।
 
4 जिस ने कौओ की तरह जीना पसन्द नहीं किया बल्कि एक बाज की तरह उड़ान भरी ।

 

पहला कदम : बडी सोच

1 अगर आप एक अमीर आदमी चनना चाहते हैं एक सफल आदमी बनना चाहते हैं तो सबसे पहले अपने अन्दर की ताकत को पहचानो ।
 
2 आपवो सबकुछ पा सकते है जो आपपाना चाहते हैं ।
 
3 सबसे पहले अपने पैरामीटर्स तोड़िए और अपनी सोच को बुलंद कीजिए । खुलकर सपने लीजिए ।
 
4 तो अभी सोचिए कि अगले पांच साल के बाद आपकी इनकम क्या होनी चाहिए । यस कौन जवाब देगा ?
 
5 उत्तर ऑडियंस 25 लाख रुपये महीना ।

दूसरा कदम प्रबल इच्छा

 
1 सफलता कादूसरा कदम है प्रबल इच्छा ।
 
2  प्रबल इच्छा किसकी ?
 
3 इच्छा भी दो तरह की होती है ,
 
4 कमजोर इक्छा और पवल इच्छा
 
5   90 प्रतिषत लोगो की सोचकमजोर होती है जब आपके दिल में किसी भी चीज की इच्छा होती है तो उसकी रुकावटो पर फोकस मत किया करो उसचीज को पाने पर फोकस करो । अगर आपने रुकावटोपर फोकस किया ठण्ड पर फोकस किया तो जबपैसा कमाने की बारी आएगी तो भी आपरजाई में दुबके रहोगे ।
दूसरा कदम : – प्रबल इच्छा
 
1 मान लीजिए आपकी इच्छा है कि आज से पांच साल बाद आपपच्चीस लाख महीना कमाएं ।
 
2 लेकिन क्याये आपकी प्रबल इच्छा है नहीं ।
 
3 प्राब्लम तब होती है जब आप पच्चीस लाख को एक फिगर मानते हैं ।
 
4 दुनिया कि हर चीज आपके पास हो । जब बच्चे किसी चीज पर हाथ रख दे , तो आपये नहीं सोचे कि आपके पास कितना पैसा है । क्योंकि आप जानते हैं कि आपके पासपैसा है । क्योंकि आपके पास मनी फ्रीडम और टाइम फीडम दोनों है ।

 

दूसरा कदम : – प्रबल इच्छा

1 सफलता का पहला कदम क्या है ? सोच ……. बड़ी सोचा
 
2  सफलता कादूसरा कदम क्या है  इच्छा …. प्रबल इच्छा । जब अपने सपने को पूरा करने की इच्छा प्रबल होगी तो उससे अगली चीज आप क्या करेंगे उसे पूरा करने का रास्ता ढूँदेंगे ।
 
3 और अमीर बनने का रास्ता क्या है लेवरेज इनकम
 
4 तो सफलता का तीसरा कदम क्या है ?
 
5 टर्न योर लीनियर इनकम इन टू लेवरेज इनकमा ( अपनी लाइनर इनकम को लेवरेज इनकम में बदले )

तीसरा कदम : – पथयानी कि लेवरेज इनकम का रास्ता ( लेवरेजयोर इनकम )

1 इस सोच को पूरा करने के लिए करना क्या पड़ेगा ?
 
2 सीधा सीधा फार्मूला है । यदि समझसको तो । नौकरी करके दुनिया में कोई अमीर नहीं बन सकता ।
 
3 जितने लोग बड़ी गाड़ियां लेकर घूमते हैं वो इंटरप्रेऩ्थोर है यानी जो लोग बिजनेस करते है ।
 
4 फार्मूला है सीधा सीधा टाइम मनी ।
 
5 ऐसा कोई काम जिसमें टाइममल्टीप्लाई नहीं हो रहा उसमें आप अमीर बनने का ख्वाब छोड़ दो ।

तीसरा कदम  पृथयानी कि लेवरेज इनकम का रास्ता ( लेवरेज योर इनकम )

1 25 लाख के लिए कौन सा रास्ता होगा ?
 
2 कोई ऐसा काम हो जिसमें बहुत सारे लोग आपके लिए कामकरे और आपके टाइमको मल्टीप्लाई करें
 
3 जितने ज्यादालोग होंगे जितना ज्यादा आपका टाइम मल्टीप्लाई होगा उतना ज्यादा आप पैसा कमाएंगे

चौथा कदम : – विकल्प यानी कि ऑप्षन ( ग्लेज )

1 हमारे पास विकल्प क्या है ?
2 बिजनेस की दुनिया में सिर्फएकऐसा बिजनेस है जो लेवरेज इनकम के सिद्धान्त पर बेस्ड है और उसे एक छोटी सी इन्वेस्टमेंट से शुरू किया जा सकता है । और उस बिज़नेस का नाम है ‘ नेटवर्क मार्केटिंगा नेटवर्क मार्केटिंगमे आप जितना चाहे उतना अपने टाइम को मल्टीप्लाई कर सकते हो और जितना चाहो उतना पैसा कमा सकते हो ।
3 मैं यह नहीं कह रहा हूं कियह काम किसी भी दूसरे कामसे आसान है । इसमें आप रातो रात सफल होने की उम्मीद मत लगा लेकिन यह वो रास्ता है , जिसपर चलकर आप अनलिमिटेड वेल्थ कमा सकते है क्योंकि यह टाइममल्टीप्लाई के सिद्धान्त पर बना है ।

 

चौथा कदम : – विकल्प यानी कि ऑप्षन ( ग्लेज़ )
 
1 यह बिजनेस 100 प्रतिशत उम्मीद के मुताबिक है । इसमें सफलता निश्चित है ।
 
2  मैंने सुना है कई लोगों को यह कहते कियह बिज़नेस काम नहीं करता इसमें 
ज्यादातर लोग कामयाब नहीं होता लोग अपने पैसे फंसा लेते हैं ।
 
3 मैं उनसेवापस एक सवाल पूछता हूं । दुनिया में कौन साऐसा बिज़नेस है जिसमें अगर आप जरूरी मेहनतवध्यान नहीं देगे तो कामयाब हो जायेंगे ?
 
4  90 % लोग कामयाब हो जाते हैं जो इस बिजनेसको सीखकर समझकर पूरी मेहनत और लगन से करते हैं क्योंकि ज्यादा तर लोग इस बिजनेस को करना पसंद करते हैं ।
 
चौथा कदम विकल्प यानी कि ऑप्षन ( ग़्लेज़ )
1 इस बिजनेसमें ज्यादातरवो लोग कामयाब नहीं होते हैं जो इस बिजनेस को बिजनेस 
की तरह लेते ही नहीं है । वो इस बिज़ नेसमे इसाएटिट्यूड से काम शुरू करते हैं कि चलाएक चान्स लेकर देख लेते हैं ।
 
2 यहां भी जो लोग इस बिजनेस में कामयाब होने के लिए अपनी पूरी ईमानदारी के साथ मेहनत के साथ कामकरते है कामयाब होते है । लेकिन जैसा कि मैंने पहले भी कहा ऐसा तभी होगा जब हमे इस इंडस्ट्री और ग्लेन पर विश्वास होगा और यही सफलता की राह पर पांचवां कदम भी है विश्वास यानी कि फेथ

पांचवां कदमः येही टर्निगप्वाइंट है आपका

1 सारी बात इस शब्द पर आकर रुक जाती है । मान लिया कि लेवरेज इनकम करना पड़ेगा । मान लिया कि ऑप्शन भी ग्लेन हा लेकिन क्या ये विश्वास अन्दर है कियह सड़क कामयाबी की ओर जाती है ?

Glaze Law of Average

 
2 क्या यह 100 प्रतिशतष्योर है कि इस रास्ते पर चलकर आज से पांच साल के बाद में 25 लाख रुपये हर महीने कमा रहा होऊंगा ?
 
पांचवां कदमः ये ही टर्निंग प्वाइंट है आपका
 
 
1 अगर विश्वास आधा अधूरा है तो सफलता के चांसभी आधे अधूरे है ।
 
2 यह कोई स्कीम नहीं है । यह एक लिजिटमेट बिजनेस है । आने वाले वक्त में ज्यादातर प्राडक्ट्स इस तरह से विकेगा
 
3 अमेरिका में यह 60 साल पुरानी इंडस्ट्री है और वहां 100 बिलयन डालर से भी ज्यादा कीमत के प्रोडक्ट्सव सर्विस आज इसी इंडस्ट्री के थू मूव करते हैं ।
 
4 भारत में ये इंडस्ट्री अभी बिलकुल इनिशियल फेज में है इसलिए भारत में इस इंडस्ट्री का व इससे जुड़े लोगों का एक बहुत ही सुनहरा भविष्य है ।
 
छटा कदम : लगातार प्रयास ( कांटिन्यूअस एफर्ट्सस )
 
 
1 लगातार प्रयासायानी कितबतक कोशिश करो जबतक कि सफलता आपके कदमो मे ना हो । ( २ फेलियर क्या है ? एक अधूराप्रयासा चलिए मैं आपको 100 प्रतिशत सफलता का एक मूलमंत्र देता हूं और इस मंत्र का नाम है लॉ ऑफाऐवरेज यानी कि औसत का नियमा
 
2  जो उतना ही सच्चा है जितना कि भगवान सच्चा है ।
 
3 औसत का नियम भी यही कहता है । आप जिस तरह का भी इंसान ढूंढ ना चाहते हैं वह इस धरती पर है पर उसका एक औसत है ।

 

छटा कदम : लगातार प्रयास ( कांटिन्यूअस एफर्टूस )

उदाहरण 
1 मैं एक ऐसा आदमी हूंढ़ ना चाहता हूं जो 500 रुपये के लिए दूसरी मंजिल से छलांग लगाने को तैयार हो जाए । जैसे ही मैं आपसे यह कहूंगा आपकहेंगे ऐसापागल कहां मिलेगा ? ऐसातो कोई हो ही नहीं सकता ।
2 आपने बगजंपिग कानामसुना है ? जिसमे लोग पैर मे रस्सी बांधकर बहुत ऊपर से नीचे कूद जाते हैं । देखा है आपने ? उसको जंपिंग कहते हैं ।
3 सिक्खों के दसवे गुरु गोविंद सिंह जी अपने शिष्यों की एक सभाले रहे थे । उसमे कई 
सौ लोग बैठे हुए थे । उन्होंने पूरी भीड़ से एकप्रश्न किया कि तुममे से कौलवीर है जो गुरु के लिए शहीदी देगा ?

छटा कदम : लगातार प्रयास ( कांटिन्यूअस एफर्ट्स )
 
उदाहरण 
 
1 दो दोस्तथे , जो एक डायरेक्ट सेलिंग कम्पनी के लिए घर – घर जाकर प्रेसवेवने का काम करते थे । उसमें से एक दोस्त ने पहले ही 15 दिन में उस कामको छोड़ दिया । लेकिन दूसरे दोस्त ने दो महीने के बाद सबसे ज्यादा प्रेस बेचने का अवार्ड जीता । उसे स्टेज पर बुलाकर सम्मानित किया गया और पूछा गया कि तुमने ऐसा कैसे किया
 
2  हर एक बार एक गरीब लड़के ने एक साधुको प्रवचन देते सुना कि अगर आदमी में काबीलियत है तो वो मिट्टी को सोना बना सकता है । तभी उसके दिमाग में एक बात आई । उसने मिट्टी ली और उसकी छोटी छोटी पुड़ियाबनानी शुरू कर दी । उस पुड़िया को यह कह कर घर घरबेचना शुरू कर दिया कि मेरे पास संजीवनी मिट्टी है । ?


छटा कदम : लगातार प्रयास ( कांटिन्यूअस एफर्ट्स )
उदाहरण
1 मैक डोनाल्ड का नाम सुना होगा आपने । मैक डोनाल्ड दुनिया की सबसे बड़ी रेस्टोरेट की सीरीज है।ये अमेरीका की कम्पनी है ।
 
2 मैक डोनाल्ड जो भी कुछ है उसके पीछे कौन जिम्मेदार है औसत का नियम ।
 
3 आप सबने द्रोणा चार्य और अर्जुन की कहानी सुनी होगी ।
 
4 अगर औसत का नियम आपको मालूम है तो ये विज नेस 100 प्रतिशत पेडिक्टेवल है । इस बिज़नेसकी 100 प्रतिशत भविष्यवाणी की जा सकती है । सिर्फ आपको ईमानदारी से अपने औसत निकालने होंगे ।
 
सातवां कदम : -ग़्लेज
 
1 हमारा टार्गेट है 25 लाख रुपये प्रति माह
 
2 25 लाख रुपये का चेक आपजानते हैं आपका कब आएगा ?
 
3 जब आपके डायरेक्ट में कम से कम 8 RD काम कर रहे होगे तब आपका चेक लगभग 25 लाख रुपये का होगा ।

8 आरडी आपके डायरेक्ट कब होगे ?

4 उदाहरण 
हमने एक आम डिस्ट्रीब्यूटर का औसत निकाला है । अगर हम चार डायरेक्ट करें और अगर हम उन पर ठीक से मेहनत करें तो उनमें से कम से कम एक लोग आरडी बन जाते हैं ।

 

सातवां कदम: ग़्लेज़

उदाहरण
1 इसका मतलब यह हुआ कि 8 लोग आर डी कब बनेंगे ?अब हम कम से कम 32  डायरेक्ट करे जिसमें से 8 RD होंगे ।
 
2  अब हम यह चाहते है कि पांच साल में हमारी 8 डायरेक्ट आरडी बन जाये तो उसके लिए हमें 32  डायरेक्ट चार साल में यानी कि 48 महीनों में करनी पड़ेगी ।

Glaze Law of Average

 
3 डायरेक्ट तो तबलगेगी जब आपगेस्टलाएंगे ।
 
4 अब अगला सवाल यह है कि कितने गेस्ट 48 महीनों में लाएंगे कि हमारी 32  डायरेक्ट लगे ?
सातवां कदम:- -ग्लेज
 
1 वैसे तो हर आदमी काऔसत अलग – अलग है ।
 
2 जैसे किजबआप हॉट औरवार्म मार्केट से गेस्ट इंदोड्यूज करते है ।
 
3 इस बात पर ज्यादा डिपेंड करता है कि आपकी अपने दोस्तों और रिश्तेदारों में इमेज क्या है ?
 
4 अगर आपकी इमेज अकी है तो आपकी औसत बहुत अच्छी हो सकती है ।
 
5 आपकी औसत इस बात पर निर्भर करती है कियहां आपकी प्रजेंटेशन कैसी है और आपका एटीट्यूड फैसा है

 

सातवां कदम :- ग़्लेज

1 प्रजेंटेशन में आपका इसकोड आपका एटीट्यूड आपका कॉन्फिडेस टूल्स ये चीजे मैटर करती है ।
 
2 हर हर एक का औसत अलग अलग है । लेकिन औसत सबका होता है ।
 
3 प्रयास की संख्या कमया ज्यादा हो जाती है ।
 
4 जैसे- जैसे आपकी प्रजेंटेशन सुधरती जायेगी ये औसत और सुधरता जायेगा ।
 
5 अभी 15 मेसे एक है , फिर 5 में से एक भी आजायेगा । मेरा औसत तो और भी शानदार होता है । 4 में से 2  की होम शॉप खुलवा ही देता हूं ।

सातवां कदम: ग़्लेज

1 मान लेते है किचरेण आप 10 में सेफ का दिन नेस शुरू करवाते ही है । उसकी होम शॉप खुलवाते ही है ।
 
2  कितनी सेल चाहि आपको?
 
3  32  डायरेक्ट यानी  32 X10 = 320 गेस्ट
 
4 तो फितले गेस्ट हुए 32 गेस्ट
 
5 32 गेस्ट कितने हुए ।
 
6 मतलब औसत 7 गेस्ट हर महीना
 
7 कहने का मतलब है कि अगर आप आग से पांच साल केबाद 25 लाख रुपये महीने का चेक चाहते हैं तो उसके लिए आपको उसकी कीमत देनी होगी । वो है 7 गैस्ट प्रतिमाह इस ऑफिसमेलाने पड़ेगे ।
 
8 सभी का औसत अलग अलग है । किसी का 12  भी हो सकता है और किसी का 6 भी है । किसी का 5 भी हो सकता है ।


सातवां कदम: -ग़्लेज़
1 अगर आपकाऔसत निखर रहा है , तो शायद 50 लाख आजायेगा ।
 
2 आपका टार्गेट है 10 गेस्ट प्रति माह आने ही आने है ।
 
3 अब छोटी सी दुविधा आप की हो जायेगी । आप सोचेंगे 480 गेस्ट सर मुझे तो 80 गेस्ट भी नहीं जानते ।
 
4 उदाहरण
आप एक फैक्टरी चला रहे है और फैक्टरी मे लोहा खत्म हो जाए तो क्या फैक्टरी को ताला लगा देगे ?
 
5 क्या करेंगे?

सातवां कदम ग्लेज़

1 बड़े बड़े बंगलो मे रहना बड़ी बड़ी गाड़ियां चलानी है तो ये कीमत है उसकी ।
 
2 पैसा तब आएगा जब लोग आपके लिए काम करेंगे तो उसके लिए आपलोगो से दोस्ती नहीं करसकते ?
 
3 आपके एक दिन में 24 घण्टे हैं 2 घण्टे बहुत है लोगों से मिलने के लिए ।
 
4 सवाल ये है किलोग मिलेगे कहां ? बात वही है कि जब सोच आती है तो रास्ता भी आता है ।


सातवां कदम:- -ग्लेज़
1 अगर आप नेटवर्कर है और किसी भी लेवल पर है और अगर इसमहीने आपके 10 गेस्ट ऑफिस में नहीं पहुंचते तो आप नेटवर्कर नहीं है ।
 
2 आप अपने सपनों से खिलवाड़ कर रहे हैं । आपको ये गेस्ट लाने ही लाने हैं और ये भी ध्यान रखिए किपीछे बैंक खाली नहीं होना चाहिए ।
 
3 रोज 3-4 घण्टे नए लोगों से मिलने में बिताये ?
 
4 उदाहरण
मार्क यारनेला वे कहते हैं कि सक्सेसफुल लोगों से सीखना चाहिए

सातवां कदम ग्लेज

1 सीधा सा फार्मूला है कि जितने ज्यादा लोग आपके नीचे काम करेंगे उतना समय आपका मल्टी प्लाई होगा  उतना पैसा आप कमाएंगे ।
 
2 जब आप इस रास्ते पर चल रहे होगे अपने गेस्ट को इंट्रोड्यूज कर रहे होंगे तो बहुत सारे लोग आपको रास्ते से हटाने की कोशिश करेंगे ।
 
3 हम 85% ऐसे लोगों से घिरे हुए हैं जो फेलियर के रास्ते पर है ।
 
4 सफलता का रास्ता तो मुझे कोई सफल आदमी ही दिखा सकता है ।
सातवां कदम:- ग़्लेज
 500 गेस्ट्स लाने के लिए आपको 2000 लोगों को इब्वाइट करना पड़ेगा ।
 
2 2000 में से 1500 आपको गोली भी देगे और 500 पहुंचेगे ।
 
3 इसलिए आपको दो ढाई हजार दोस्त बनाने है 5 सालमें ।
 
4 मैंने बहुत सारे लोगों से बात की है आना आपमे से कुछ है , जो मेरी बात सुनकर उस पर अमल करेंगे और आज से 5 साल के बाद यहां ग्लोवल डायमंड डिस्ट्रीब्यूटर बनकर खड़े होंगे । बाकी अभी 48 घंटों के अन्दर ये सब भूल जायेगे और वापस अपने काम – धन्धे पर लग जायेगे ।
 
5 वापस वही जिन्दगी जीयेगे जोवो बिता रहे थे ।
 
6 ये भी औसत का नियम है और एक कड वा सच है ।
 
7 मेरी नजर उन पर है जो उठकर ऊपर आने वाले हैं ।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular