Home Glaze Glaze Psychology Class in Hindi | Glaze Psychology Class in Hindi PDF

Glaze Psychology Class in Hindi | Glaze Psychology Class in Hindi PDF

0
36

साइकोलॉजी क्लास

Glaze Psychology Class in Hindi
Glaze Psychology Class

 

 साइकोलॉजी दो शब्द बना है

साइको+लॉजी = साइकोलॉजी 

साइकोलॉजी का जन्म कब और कहां हुआ था

साइकोलॉजी का जन्म 1920 ई मैं बिहार के पटना जिले के नालंदा विश्वविद्यालय में हुआ था  मिस्टर बीनय साइमन जी है

 

साइकोलॉजी क्लास को हमारे डायरेक्टर साहब ने क्यों रखा

साइकोलॉजी क्लास को हमारे डायरेक्टर साहब ने इसलिए रखा है कि जब हमारा नया I.T.B.E.C क्लास देखकर बाहर निकलता है तो उसके मन में तरह-तरह सवाल उठता है

जैसे कंपनी लीगल है या नहीं भारत सरकार को टैक्स देती है या नहीं इन्हीं सब सवालों का जवाब देने के लिए हमारे डायरेक्टर साहब ने साइकोलॉजी क्लास को रखा है

साइकोलॉजी क्लास को हमारी डायरेक्टर साहब ने कितने भागों में बांटा है

साइकोलॉजी क्लास को हमारे डायरेक्टर साहब में दो भागों में बांटा है

  1. साइकोलॉजी ऑफ द गेस्ट
  2. फ्यूचर ऑफ द सेल मार्केट

 

Psychology  PDF

 

साइकोलॉजी क्लास को हमारे डायरेक्टर साहब ने कितने भागों में तोड़ा है

साइकोलॉजी क्लास को हमारे डाटा सामने 5 भागों में तोड़ा है

  1. सोच 
  2. मौका      
  3. पैरामीटर  
  4. विश्वास   
  5. 10 का रेशियो

 

सोच

किसी व्यक्ति स्थान को देखकर हमारे मन में विचार भाव उत्पन्न हो उसे सोच कहते हैं

मौका 

 किसी व्यक्ति के जीवन में आया हुआ वह सुनहरा पल जो उसके आर्थिक व सामाजिक स्थिति को बदल कर रख के मौका कहते हैं

पैरामीटर

 किसी जीव जंतु को बचपन के सोच को खोल देना या तोड़ देना ही पैरामीटर कहलाता है

विश्वास 

किसी व्यक्ति वस्तु स्थान को देखकर हमारे मन में जो उरदा भाव उत्पन्न हो उसे विश्वास करते हैं

10 का रेशियो

किसी भी विषय वस्तु के बारे में अनुमान या अनुपात निकालना ही रेशियो कहलाता है

रेशियो की तरह हमारे डायरेक्टर साहब ने 10 लोगों को काम दिखाया

  • यह भी पढ़े

Glaze All Class PDF

 Galway Krisham

 How To Approach

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here